कांकेर-भूमकाल दिवस के अवसर में जल,जंगल जमीन बचाने युवाओं ने प्रण लिया



कांकेर- भूमकाल दिवस (सहादत दिवस) के अवसर पर सर्व आदिवासी युवा प्रभाग जिला कांकेर के समस्त पदाधिकारी एवं समाज के सियानो,आदिवासी युवा छात्र संगठन की उपस्थिति में गोण्डवाना भवन – भीरावाही से बाइक रैली निकाला गया जो कांकेर शहर के मुख्य मार्ग से होता हुआ किल्ले कोर्र रच्चा परमाहसुर गोटुल सिंगारभांट पहुंचा, सिंगारभांट में सियानो द्वारा पेन अर्जी करने के पश्चात सभा को संबोधित किया गया । पीलु उसेण्डी द्वारा महान बुमकाल विद्रोह व इसके नायक बीर गुण्डाधुर और बीर डीबरीधुर के महान योगदान के बारे बताया गया , रामजीलाल वट्टी द्वारा अपनी संस्कृति व गोण्डी भाषा की हमारे समाज में क,ग।सक्ज़अनिवार्यता के बारे में बताया गया इसके बाद शंकुतला तारम द्वारा आदिवासी समाज मे संविधान के अध्ययन पर जोर दिया, आदिवासी युवा छात्र संगठन जिला कांकेर पूर्व अध्यक्ष अनमोल मण्डावी जी ने बुमकाल दिवस के बारे में अवगत कराते हुए युवाओं को नई ऊर्जा के साथ सम्बोधित किया ।
साथ ही युवाओं के शेर गोंड़वाना समाज महासचिव कन्हैया उसेंडी जी ने शहीद वीर गुंडाधुर के बुमकाल विद्रोह के बारे में जानकारी देते हुए आदिवाईयों के संवैधानिक अधिकारों को भी अवगत कराया व पेसा कानून वन अधिकार कानून, 2006 को सही क्रियान्वयन के लिए युवा शक्तियों को जोर दिया साथ ही रोजगार- स्वरोजगार की ओर युवाओ को अग्रसर होने के लिए आशीर्वाद दिए। सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग ब्लॉक अध्यक्ष पखांजुर जंगलु कड़ियाम जी ने जल जंगल जमीन की लड़ाई लड़ने के लिए वन अधिकार कानून,2006 और पेसा कानून के तरह ग्राम सभा के माध्यम से लड़ने पट जोर दिए।
सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग जिला अध्यक्ष योगेश नरेटी जी ने कहा भूमकाल दिवस युवा प्रभाग ने प्रण लिया कहां पेसा कानून को लेकर बस्तर में एक अलग माहौल बनाएंगे और गांव गांव में जानकारी देने निकलेंगे साथ ही भूमकाल विद्रोह के बारे में जानकारी दिए व ल जंगल जमीन को बचाने के लिए पेसा कानून वन अधिकार कानून की जानकारी देते हुए युवा साथियों को गुंडाधुर जैसे बनने के लिए जोर दिए। कार्यक्रम का संचालन जिला प्रवक्ता भूपेंद्र नेताम जिला महासचिव मनेश्वरी सलाम द्वारा किया गया।
भूमकाल दिवस सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग व आदिवासी छात्र संगठन के नैतृत्व में सफल रहा।

 126 total views,  2 views today


Facebook Comments

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

बुमकाल स्मृति दिवस 111वीं वर्षगाँठ बस्तरिया के लिए आज प्रासंगिक

कांकेर- नवनिर्वाचित प्रांतीय अध्यक्ष सर्व आदिवासी समाज का गृहनगर में हुवा भव्य स्वागत।