गोटूल,जिमीदारीन याया गुड़ी निर्माण हेतु आदिवासी समाज प्रमुखों ने दिया सुझाव


कोंडागांव:- जिला मुख्यालय के सभागार में जिला स्तरीय गांयता, पेनपुजारी, मांझी, पटेल , चालकी एवं आदिवासी समाज प्रमुखों का प्रशासन के साथ बैठक आयोजित किया गया। याया जिम्मेदारीन गुड़ी एवं गोटूल गुड़ी का पुनः निर्माण पर परिचर्चा बैठक जिले के सहायक आयुक्त , जिला पंचायत अध्यक्ष एवं कोंडागांव विधायक की उपस्थिति में बैठक संपन्न हुआ।
इस विशेष बैठक में जिले के प्रत्येक गांव के गांयता, पुजारी, पटेल, परगना के मांझी, चालाकी एवं प्रत्येक ब्लाक के समाज प्रमुख जिला पदाधिकारी उपस्थिति रहे। जिसमे नार्र पेन ब्यवस्था से संबंधित जिम्मेदारीन माता गुड़ी, और गोटूल गुड़ी निर्माण हेतु जिले के सहायक आयुक्त द्वारा परिचर्चा हेतु एजेंडा को सभा के समक्ष रखा गया। जिसे विस्तार पूर्वक विधायक तिरु. मोहन मरकाम, जिला पंचायत अध्यक्ष तिरु देवचंद मातलाम एवं जलसंसाधन विभाग के इंजीनियर सिंह सहाब द्वारा पेन गुड़ी एवं गोटूल गुड़ी के संबंध में बात रखे तत्पश्चात उपस्थिति समाज के लोगो ने अपनी सुझाव रखे और एक स्वर में पेन गुड़ी का नाम जिम्मेदारीन माता गुड़ी का एक समान परम्परागत प्रारूप में ही बनाने का प्रस्ताव पास किया गया और समाज के लोग ही तुरंत माता गुड़ी एवं गोटूल गुड़ी की डिजाइन बना कर इजनियार को दिए और और आकार की जानकारी भी दिए । साथ ही समाज प्रमुखों पुजारियों द्वारा प्रशासन को बताया गया कि कोई भी निर्माण परम्परागत आकार एवं गायता के निर्दशानुसार ही किया जाना जरूरी है। यह प्रस्ताव सर्व सम्मति प्रस्ताव पारित किया गया है।

माटी गांयता, पुजारी, मांझी, चालकी एवं अधिकारी, कर्मचारी, जनप्रतिनिधि एवं समाज प्रमुख सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष तिरु बंगा राम सोड़ी, हुर्रा महेश ऊर्जा मट्टा गोटूल,सुरेश मरकाम, संतु शोरी, मनिहार मरकाम केशकाल सर्व आदिवासी समाज ब्लाक अध्यक्ष, निर्मल शोरी, मांझी मनाकु परचापी, पटेल रजाऊ नेताम, पटेल दिनेश मरकाम , सर्व आदिवासी समाज बड़े राजपुर ब्लाक सचिव लक्ष्मण मरकाम , हरी मरकाम बड़ी संख्या में समाज प्रमुखों की उपस्थिति में यह बैठक संपन्न हुआ।

 98 total views,  4 views today


Facebook Comments

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

मिशन 2023-24 छत्तीसगढ़ में आदिवासी सरकार बनाने की कवायद शुरू-बीपीएस पोया

आदिवासी विश्राम भवन होगा पुनः निर्माण: कवासी लखमा ने किया 4 करोड़ का घोषणा