मासाराम कुंजाम दन्तेवाड़ा अनुसूचित जनजाति शासकीय सेवक विकास संघ के जिलाध्यक्ष चुने गए


दंतेवाड़ा:- अनुसूचित जनजाति शासकीय सेवक विकास संघ छत्तीसगढ़ के तत्वावधान में जिला मुख्यालय दन्तेवाड़ा में सामान्य बैठक एवं जिला कार्यकारिणी का गठन किया गया। जिसमें छत्तीसगढ़ प्रदेश के प्रांतीय सदस्य सहित जिला अधिकारी कर्मचारी भी उपस्थित थे। उक्त बैठक में जिला दन्तेवाड़ा के अंतर्गत जिले के चारो विकास खंड दन्तेवाड़ा, गीदम,कटेकल्याण एवं कुआकोण्डा के अनुसूचित जनजाति संवर्ग के शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

फरवरी 2021 में प्रांतीय कार्यकारिणी के गठन के पश्चात छत्तीसगढ़ राज्य के समस्त जिलों में जिला स्तरीय कार्यकारिणी का गठन चरणबद्ध रूप से प्रांतीय कार्यकारिणी के निर्देशानुसार किया जा रहा है। उसी क्रम में जिला दन्तेवाड़ा के जिला कार्यकारिणीय सदस्यों का मनोनयन सर्वसम्मति से किया गया । अनुसूचित जनजाति शासकीय सेवक विकास संघ जिला दन्तेवाड़ा के जिलाध्यक्ष के रूप में श्री मासाराम कुंजाम , उपाध्यक्ष श्री साईराम अलामी,सुखराम पोडियाम, श्री शीतल मरकाम, महासचिव श्री राममिलन रावटे, सचिव दीपक बघेल, श्री सुश्री सविता कवासी, कोषाध्यक्ष तेजराम जुर्री, मीडिया प्रभारी श्री बालसिंह कोरसा, श्री संपत यालम,कार्यकारणी सदस्य श्री विश्वनाथ भारद्वाज, श्री ओमप्रकाश कश्यप, श्री पी.एस.केमरो, श्री नंदकिशोर कौल, श्री जागेश्वर लाल जुर्री, श्री संतोष नेताम, श्री रामचरण राणा, श्री संतुराम नाग, श्री सुरेश नेताम, श्रीमती सीमा मरकाम, श्रीमती सोना तर्मा, श्री जे.आर वट्टी, श्री रामचंद्र भगत, श्री राजकुमार नाग,श्री चंद्र कुमार कुंजाम, श्रीमती शीला ओयामी, श्री सुरेन्द्र नेताम का नाम सर्वसम्मति से मनोनीत किया गया।

उक्त मनोनयन प्रक्रिया में प्रांतीय पदाधिकारियों व जिला कार्यकारिणी मनोनयन प्रभारी के रूप में श्री गजलु पोडियाम प्रांतीय कार्यकारणीय सदस्य एवं श्री सुरेश कर्मा अध्यक्ष सर्व आदिवासी समाज जिला दन्तेवाड़ा ने उक्त बैठक को संबोधित किए। जिला कार्यकारिणी के मनोनयन पश्चात प्रांतीय पदाधिकारियों एवं उपस्थित लोगों द्वारा मनोनीत पदाधिकारियों को बधाई प्रेषित कर उनसे जिला स्तरीय संघ के क्रियाकलाप को बेहतर ढंग से किए जाने का आह्वान करते हुए शुभकामनाएं व्यक्त की गई ।

आज के बैठक का मुख्य उद्देश्य प्रांताध्यक्ष आर एन ध्रुव जी के नेतृत्व में अनुसूचित जनजाति शासकीय सेवक विकास संघ छत्तीसगढ़ की अगुवाई में दिनांक 26 जुलाई 2021 दिन सोमवार को पदोन्नति में आरक्षण संबंधी विराट रैली प्रदर्शन में सभी जिला के सदस्यों को अधिक से अधिक संख्या में सम्मिलित होने का आह्वान किया गया। साथ ही प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा जिले के समस्त अनुसूचित जनजाति संवर्ग के कर्मचारियों से आह्वान किया गया कि निर्धारित कार्यक्रम अनुसार अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग के साथ हो रहे शोषण, अन्याय, अत्याचार के खिलाफ आंदोलन में सम्मिलित होकर सामाजिक एकजुटता का परिचय देते हुए भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कही।

ज्ञात हो कि अनुसूचित जनजाति संवर्ग के पदोन्नति के पदों को सामान्य संवर्ग से भरे जाने के विरोध स्वरूप दिनांक 8 जून से लेकर 28 जून तक चरणबद्ध रूप से आंदोलन चलाया जा रहा है, जिसमें प्रथम चरण के रूप में 8 से 14 जून तक छत्तीसगढ़ के सभी सांसदों, सभी विधायकों को अपने अपने स्तर पर पदोन्नति में आरक्षण की बहाली के संबंध में ज्ञापन सौंपा गया। द्वितीय चरण के रूप में दिनांक 20 जून 2021 को प्रदेश के समस्त अनुसूचित जनजाति शासकीय कर्मचारियों द्वारा वर्चुअल आंदोलन किया गया साथ ही प्रत्येक सदस्यों द्वारा अपने ट्विटर हैंडल से पदोन्नति में आरक्षण की बहाली संबंधित ट्वीट लाखों की संख्या में किए गए एवं तृतीय चरण के रूप में सभी जिला मुख्यालयों में संघ के पदाधिकारियों द्वारा जिला के कलेक्टरों को माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नाम से पदोन्नति में आरक्षण की बहाली को लेकर ज्ञापन सौंपा गया ।
क्योंकि आज तक पदोन्नति में आरक्षण की बहाली के संबंध में राज्य शासन ने कोई भी सकारात्मक कदम नहीं उठाया है इस कारण चौथे चरण के रूप में दिनांक 26 जुलाई 2021 दिन सोमवार को प्रदेशभर के समस्त अनुसूचित जनजाति शासकीय कर्मचारियों द्वारा विशाल रैली रूप में बूढ़ा तालाब से लेकर विधानसभा तक घेराव विराट रैली का प्रदर्शन कर पदोन्नति में आरक्षण की बहाली के संबंध में ज्ञापन सौंपा जाना है।

खबर- मंगल कुंजाम, दंतेवाड़ा

 92 total views,  2 views today


Facebook Comments

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

कोण्डागाँव ब्लॉक इकाई के पदाधिकारियों का सर्वसहमति से चयन

आदिवासी युवा छात्र संगठन दरभा अध्यक्ष सचिन कश्यप ने नेत्रहीन छात्र की मदद की