रामायण प्रतियोगिता बंद कराने के संदर्भ में कलेक्टर को सौंपा गया ज्ञापन


कांकेर : बस्तर संभाग आदिवासी बहुल्य क्षेत्र है जो की पाँचवी अनुसूची क्षेत्र अंतर्गत आता है ,जहां ग्राम सभा का निर्णय सर्वोच्च होता है , लेकिन वर्तमान सरकार व अफसरशाही फरमान इस ग्राम सभा को नजरअंदाज कर पाँचवी अनुसूची का उल्लंघन कर रहे हैं व सरकार द्वार बस्तर के विकास हेतु आए मद का रामायण प्रतियोगिता कर आदिवासी मद का दुरुपयोग किया जा रहा है । सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग के द्वारा रामायण प्रतियोगिता बंद कराने के संदर्भ में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया ।

वर्तमान में बहुत से क्षेत्र सड़क , पानी , बिजली से वंचित हैं जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है ऐसे में सरकार द्वारा मद का दुरुपयोग समझ से परे है । सरकार द्वारा किसी धर्म का प्रचार कर ,आदिवासियों की संस्कृति को खत्म करने की पुरजोर कोशिश की जा रही है । अतः सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग द्वारा इस रामायण प्रतियोगिता का पुरजोर विरोध कर ,तत्काल इसे बंद कराने की माँग को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया । व कार्यवाही ना होने पर सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग इसका सख्ती से विरोध करेगा ।

ज्ञापन सौपने पहुंचे सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग से जिला प्रवक्ता – भोज मंडावी ,अखिलेश मंडावी , मुकेश तेता , रिकेश मंडावी , संजू पोया द्वारा सौंपा गया ।

 9,538 total views,  4 views today


Facebook Comments

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Loading…

0

आदिवासी युवाओं ने समाज के उज्जवल भविष्य के लिए आहूत किया चिंतन मंथन बैठक – दंतेवाड़ा

मुण्डापाल और घाटकवाली ग्रामसभा ने सौंपा CFR,CFRR का दावा प्रारूप